कोकम के फायदे और नुकसान – Kokum Benefits and Side Effects in Hindi

SHARING IS CARING!
Share on Facebook
Facebook
0Tweet about this on Twitter
Twitter
Pin on Pinterest
Pinterest
0Share on Reddit
Reddit
0

कोकम के फायदे और नुकसान – Kokum Benefits and Side Effects in Hindi Stylecraze Hyderabd040-395603080 December 3, 2019

भारत में विभिन्न प्रकार के फल पाए जाते हैं। कुछ जाने-पहचाने, तो अनजाने। ऐसा ही एक अनजाना फल है ‘कोकम’। कोकम को औषधीय फल माना जाता है। यह दिखने में सेब जैसा नजर आता है। इस फल को वर्षों से औषधीय और मसाले के रूप में प्रयोग किया जा रहा है। कोकम फल का वैज्ञानिक नाम गार्सिनिया इंडिका (garcinia indica) है। स्टाइलक्रेज का यह लेख इसी फल के बारे में आपको महत्वपूर्ण जानकारी देने के लिए है। इस फल के सेवन से कई स्वास्थ्य फायदे हो सकते हैं। यह फल न सिर्फ सेहतमंद रहने में मदद करता है, बल्कि विभिन्न स्वास्थ्य समस्याओं से उबरने में भी मदद कर सकता है। वहीं, अगर कोई गंभीर रूप से बीमारी है, तो उसे इस फल का सेवन करने के साथ-साथ डॉक्टर से चेकअप करवाना भी जरूरी है। इस लेख में हम कोकम खाने के फायदे के साथ-साथ कोकम खाने के नुकसान के बारे में भी विस्तार से बताएंगे।

लेख के इस भाग में हम कोकम के फायदे के बारे में बता रहे हैं।

विषय सूची

कोकम के फायदे – Benefits of Kokum in Hindi

कोकम के विभिन्न स्वास्थ्य लाभ नीचे विस्तार से बताए जा रहे हैं।

1. डायरिया के लिए

डायरिया ऐसी स्थिति है, जब व्यक्ति को एक दिन में 3-4 बार पतले दस्त होने लगते हैं (1)। ऐसी अवस्था में कोकम फल कुछ हद तक राहत दिला सकता है। दरअसल, कोकम फल में एंटी-डायरिया गुण पाया जाता है, जिसके कारण इसका सेवन करने से यह डायरिया के उपचार में मदद कर सकता है (2)। इस स्थिति में कोकम फल के जूस को डायरिया से ग्रसित व्यक्ति को पिलाया जा सकता है।

2. एंटी-फंगल और एंटी-ऑक्सीडेंट के रूप में

एंटी-फंगल और एंटी-ऑक्सीडेंट के रूप में भी कोकम फल का सेवन किया जा सकता है। कोकम फल में एंटी-फंगल और एंटी- ऑक्सीडेंट दोनों गुण पाए जाते हैं (3)। चूहों पर किए गए एक अध्ययन में पाया गया कि कोकम फल में मौजूद एंटी-फंगल गुण की मदद से अल्सर के प्रभाव को कुछ कम किया जा सकता है (4)।

वहीं, कोकम फल को एंटी-ऑक्सीडेंट के रूप में भी इस्तेमाल किया जा सकता है। दरअसल, कोकम में एंथोसायनिन्स (Anthocyanins) नामक फाइटोन्यूट्रिएंट्स पाया जाता है, जिसमें सक्रिय एंटी-ऑक्सीडेंट गुण होता है। इसमें मौजूद एंटी-ऑक्सीडेंट गुण त्वचा को फ्री- रेडिकल्स डैमेज से बचाने में मदद कर सकता है (5)। इसलिए, डॉक्टरी सलाह के अनुसार इस फल को सुबह के समय खाया जा सकता है।

3. ट्यूमर (Tumor) से बचाव के लिए

ट्यूमर से बचे रहने के लिए भी कोकम फल का सेवन सक्रिय रूप से अपना गुण दिखा सकता है। दरअसल, कोकम फल में एंटी-ट्यूमर एक्टिविटी पाई जाती है, जो ट्यूमर होने के जोखिम को करने में उपयोगी साबित हो सकता है। इसके अलावा, चूहे पर किए गए टेस्ट में पाया गया है कि इसके सेवन से त्वचा के ऊपर होने वाले ट्यूमर को ठीक करने में मदद मिल सकती है (2)। बेशक, चूहों पर किए गए परीक्षण में इसके परिणाम अच्छे पाए गए हैं, फिर भी इसका सेवन डॉक्टर की सलाह पर ही करें।

4. हृदय स्वास्थ्य के लिए

कोकम फल का सेवन हृदय रोगों से बचाए रखने का भी काम कर सकता है। एक वैज्ञानिक रिसर्च के अनुसार, कोकम फल में बी-कॉम्प्लेक्स विटामिन, पोटैशियम, मैंगनीज और मैग्नीशियम जैसे पोषक तत्व पाए जाते हैं। ये सभी गुण हृदय गति और ब्लड प्रेशर को नियंत्रित करने में मदद कर सकते हैं। साथ ही स्ट्रोक और हृदय रोग के जोखिम को भी कम करने में लाभदायक असर दिखा सकते हैं। इसके अलावा, इसमें कार्डियोप्रोटेक्टिव गुण (Cardioprotective – हृदय स्वास्थ्य के लिए सुरक्षात्मक गुण) भी पाया जाता है (2)। चिकित्सक की सलाह पर इसे आहार में शामिल कर सकते हैं।

5. पेट की गैस के लिए

पेट की गैस से ज्यादातर लोग परेशान होते हैं, लेकिन कोकम के फायदे ऐसे लोगों की परेशानी को खत्म कर सकते हैं। कोकम का सेवन पाचन संबंधी कई समस्याओं, जैसे – पेट फूलना, कब्ज व अपच आदि के साथ-साथ पेट में गैस की समस्या को भी ठीक कर सकता है (2)। हालांकि, कोकम इन सभी समस्याओं में किस प्रकार लाभदायक हो सकता है, इस पर अभी अधिक वैज्ञानिक प्रमाण की आवश्यकता है। गैस की समस्या को दूर करने के लिए कोकम का इस्तेमाल डॉक्टरी सलाह पर कर सकते हैं।

6. लीवर स्वास्थ्य के लिए

लीवर के अच्छे स्वास्थ्य के लिए भी कोकम फल का सेवन फायदेमंद हो सकता है। एक वैज्ञानिक रिसर्च के अनुसार, कोकम फल में विभिन्न बायोएक्टिव यौगिक होते हैं, जो एंटीऑक्सीडेंट, एंटी-बैक्टीरियल और एंटीफंगल गुण की तरह काम कर सकते हैं। ये गुण लीवर को स्वस्थ रखने व कैंसर से बचाने में मदद कर सकते हैं (6)। ऐसी स्थिति में डॉक्टर से मिलें और मेडिकल ट्रीटमेंट के बारे में भी जानकारी लें।

वहीं, एनसीबीआई (नेशनल सेंटर फॉर बायोटेक्नोलॉजी इंफॉर्मेशन) की वेबसाइट पर प्रकाशित एक मेडिलक रिसर्च में भी कहा गया है कि कोकम फल के प्रयोग से लीवर संबंधी विकारों को दूर करने में मदद मिल सकती है (7)।

7. बवासीर की स्थिति में

कोकम खाने के लाभ में बवासीर के जोखिम को कम करना भी शामिल है, क्योंकि इसमें एंटी-पाइल्स गुण पाए जाते हैं (2)। इस विकार से बचे रहने के लिए इसके फल, छिलके और कोकम के पेड़ की पत्तियों का भी इस्तेमाल जूस के रूप में कर सकते हैं। फिलहाल, इस संबंध में और मेडिकल रिसर्च की जरूरत है। साथ ही बवासीर की गंभीर स्थिति में मेडिकल ट्रीटमेंट भी जरूरी है।

8. जलने (Burns) की स्थिति में

जलने की स्थिति में भी कोकम फल का उपयोग लाभ पहुंचा सकता है (2)। जलने की अवस्था में कोकम फल को आयुर्वेदिक औषधि की तरह प्रयोग किया जा सकता है (5)। इसके लिए आप फल के गूदे को दही के साथ मिलाकर प्रभावित स्थान पर लगा सकते हैं। जलने की स्थिति ज्यादा गंभीर हो, तो बिना देरी किए मेडिकल ट्रीटमेंट जरूर करवाना चाहिए।

9. त्वचा की जलन के लिए

ज्वलनशील त्वचा के उपचार के लिए भी कोकम के फायदे देखे जा सकते हैं। कोकम फल को शर्बत के रूप में इस्तेमाल करके सूर्य और अन्य कारणों से होने वाली त्वचा की जलन को कम करने और स्किन डैमेज को रोकने में मदद मिल सकती है (8)। हालांकि यह किस विशेष गुण के कारण इसमें मदद कर सकता है, इस पर अभी वैज्ञानिक शोध जारी है। इसलिए डॉक्टर की परामर्श के बाद इसका सेवन किया जा सकता है।

आइए, अब जानते हैं कि कोकम फलों का उपयोग कैसे कर सकते हैं।

कोकम का उपयोग – How to Use Kokum in Hindi

कोकम फल को निम्न प्रकार से उपयोग किया जा सकता है:

  • कोकम फल को धोने के बाद ऊपरी छिलके को उतारकर, इसे अन्य फलों की तरह खाया जा सकता है।
  • कोकम फल के जूस को पीने में इस्तेमाल किया जा सकता है।
  • इसे स्मूदी के रूप में भी उपयोग कर सकते हैं।
  • इसका शरबत बनाकर पीने के लिए इस्तेमाल कर सकते हैं।
  • कोकम को फ्रूट सलाद के रूप में खाने के साथ इस्तेमाल किया जा सकता है।

कब खाएं – फल को सुबह नाश्ते के बाद खाया जा सकता है। गर्मियों में जूस के रूप में इसका सेवन कर सकते हैं। यह ठंडक प्रभाव देने के साथ-साथ, पेट में गैस की समस्या को भी खत्म करने के लिए लाभदायक हो सकता है (3)। खाने के बाद इसका सेवन किया जा सकता है।

कितना खाएं – दिन भर में इसके 1-3 फलों को खास सकते हैं, लेकिन इसके सेवन की सही मात्रा की जानकारी के लिए आहार विशेषज्ञ से सलाह जरूर लें।
इसके सेवन से कुछ नुकसान भी हो सकते हैं, जो लेख के इस भाग में आपको बताए जा रहे हैं।

कोकम के नुकसान – Side Effects of Kokum in Hindi

हालांकि, कोकम फल खाने के ज्यादा नुकसान तो नहीं हैं, लेकिन फिर भी इसका सीमित मात्रा में ही उपयोग करें। यहां हम कोकम फल को अधिक मात्रा में खाने से होने वाले कुछ दुष्प्रभावों के बारे में बता रहे हैं :

  • जिन लोगों को त्वचा संबंधी कोई एलर्जी है, तो उन्हें इसके सेवन से पहले डॉक्टर की सलाह जरूर लेनी चाहिए।
  • अगर कोई किसी गंभीर बीमारी का इलाज करवा रहा है, तो उस स्थिति में डॉक्टर की सलाह पर ही इसका सेवन करें, नहीं तो इलाज के असर को कम भी कर सकता है।

इस लेख में आपने जाना कि कोकम खाने से किन-किन स्वास्थ्य विकारों को दूर करने में मदद मिल सकती है। हालांकि, इसके कुछ नुकसान भी हो सकते हैं, जिनके लिए सावधानी अवश्य बरतें। इसके सेवन से पहले इसे अच्छी तरह धोएं जरूर। ध्यान दें कि इसके सेवन के दौरान अगर आपको कोई स्वास्थ्य समस्या या कुछ अन्य लक्षण नजर आएं, तो इसका सेवन रोक दें। चिकित्सकीय परामर्श के बाद ही इसका सेवन शुरू करें। अगर आप कोकम फल के संबंध में कुछ और जानना चाहते हैं, तो अपने सवाल नीचे दिए कमेंट बॉक्स के जरिए हमें भेज सकते हैं। हमें आपकी प्रतिक्रिया का इंतजार रहेगा।

The following two tabs change content below.

Latest posts by Somendra Singh (see all)

Somendra Singh

सोमेंद्र ने इलाहाबाद विश्वविद्यालय से 2019 में बी.वोक इन मीडिया स्टडीज की है। पढ़ाई के दौरान ही इन्होंने पढ़ाई से अतिरिक्त समय बचाकर काम करना शुरू कर दिया था। इस दौरान सोमेंद्र ने 5 वेबसाइट पर समाचार लेखन से लेकर इन्हें पब्लिश करने का काम भी किया। यह मुख्य रूप से राजनीति, मनोरंजन और लाइफस्टइल पर लिखना पसंद करते हैं। सोमेंद्र को फोटोग्राफी का भी शौक है और इन्होंने इस क्षेत्र में कई पुरस्कार भी जीते हैं। सोमेंद्र को वीडियो एडिटिंग की भी अच्छी जानकारी है। इन्हें एक्शन और डिटेक्टिव टाइप की फिल्में देखना और घूमना पसंद है।

संबंधित आलेख

Source: https://www.stylecraze.com/hindi/kokum-ke-fayde-aur-nuksan-in-hindi/

SHARING IS CARING!
Share on Facebook
Facebook
0Tweet about this on Twitter
Twitter
Pin on Pinterest
Pinterest
0Share on Reddit
Reddit
0
« »