मसूड़ों की सूजन के लिए 14 घरेलू उपाय – Home Remedies To Treat Swollen Gums in Hindi

SHARING IS CARING!
Share on Facebook
Facebook
0Tweet about this on Twitter
Twitter
Pin on Pinterest
Pinterest
0Share on Reddit
Reddit
0

Stylecraze February 12, 2019

क्या आप भी हैं मसूड़ों की सूजन से परेशान? क्या ब्रश करते समय आपके मसूड़ों से भी खून आता है? अगर हां, तो आपको ‘जिंजीवाइटिस/पेरिओडोन्टाइटिस’ की समस्या हो सकती है। यह ऐसी समस्या है, जो बैक्टीरिया संक्रमण के कारण होती है। अगर इसका इलाज सही समय पर न किया जाए, तो यह संक्रमण और भी गंभीर हो सकता है। मसूड़ों में सूजन होने के कारण खाने-पीने में भी परेशानी होने लगती है।

विषयसूची

समस्या कोई भी हो, इसकी शुरुआत होने पर ज्यादातर लोग पहले घरेलू उपाय के बारे में सोचते हैं। ऐसे में हम आपको मसूड़ों की सूजन के लिए घरेलू उपाय बताएंगे, ताकि समय रहते आप इस समस्या से छुटकारा पा सकें।

आइए, सबसे पहले तो यह जान लेते हैं कि मसूड़ों में सूजन आने के क्या कारण हैं।

मसूड़ों में सूजन आने के क्या कारण – What Causes Swollen Gums In Hindi?

मसूड़ों में सूजन नीचे बताए गए कारणों से आ सकती है :

  • टार्टर या प्लाक होना, जिस कारण मसूड़ों में सूजन आ जाती है। इसे जिंजीवाइटिस कहा जाता है।
  • जब जिंजीवाइटिस संक्रमण फैल जाए, तो मसूड़ों में सूजन बढ़ जाती है, इसे पेरिओडोन्टाइटिस कहा जाता है।
  • वायरल या फंगल इन्फेक्शन।
  • दांत लगवाने के बाद सूजन आना।
  • गर्भावस्था के कारण।
  • कुछ खाने की चीजों और दांतों की चीजों से एलर्जी होना।
  • मसूड़ों में एलर्जी (1, 2)।

मसूड़ों में सूजन के लक्षण – Symptoms For Swollen Gums In Hindi

मसूड़ों में सूजन आने पर नीचे बताए गए लक्षण नजर आ सकते हैं:

  • मसूड़ों से खून आना।
  • मसूड़े लाल हो जाना और इनमें सूजन आना।
  • मसूड़ों में दर्द होना।
  • दांतों के बीच फासला आना।
  • सांस से बदबू आना। (1)

नीचे हम मसूड़ों की सूजन के लिए घरेलू उपायों के बारे में बता रहे हैं, जिन्हें आजमा कर आप सूजे हुए मसूड़े की समस्या से राहत पा सकेंगे।

मसूड़ों में सूजन दूर करने के घरेलू उपाय – Swollen Gums Remedies in Hindi

1. नमक का पानी

Shutterstock

सामग्री :

  • एक चम्मच नमक
  • एक गिलास गुनगुना पानी

क्या करें?

गुनगुने पानी में नमक डालकर इससे कुल्ला करें।

ऐसा कब-कब करें?

इस प्रक्रिया को सुबह और रात को दोहराएं। इसके अलावा, खाना खाने के कुछ देर बाद भी यह प्रक्रिया दोहरा सकते हैं।

यह कैसे काम करता है?

मुंह की समस्या के लिए नमक का पानी बहुत प्रचलित घरेलू उपचारों में से एक है। यह मुंह का पीएच स्तर संतुलित करता है और मसूड़ों की सूजन से राहत दिलाने में मदद करता है (3)। इसके अलावा, इसमें एंटी-इंफ्लेमेटरी गुण होते हैं, जो सूजन कम करने में मदद करते हैं (4)।

सावधानी : याद रखें कि यह उपचार आपको अस्थायी रूप से ही आराम पहुंचाएगा।

2. लौंग का तेल

Shutterstock

सामग्री :

  • दो-तीन बूंद लौंग का तेल

क्या करें?

  • सूजे हुए मसूड़ों पर लौंग का तेल लगाएं और धीरे-धीरे मालिश करें।
  • इसे अपने मसूड़ों पर लगा छोड़ दें।
  • मसूड़ों की सूजन और दर्द से राहत पाने के लिए आप लौंग के तेल को काली मिर्च के साथ भी इस्तेमाल कर सकते हैं। वहीं, कई विशेषज्ञ लौंग चबाने की भी सलाह देते हैं।

ऐसा कब-कब करें?

आप कुछ-कुछ घंटों में इस तेल को अपने मसूड़ों पर लगाएं।

यह कैसे काम करता है?

मसूड़ों की सूजन से राहत पाने के लिए सदियों से लौंग के तेल का इस्तेमाल किया जा रहा है। इसमें एंटीमाइक्रोबियल गुण होते हैं, जो संक्रमण से बचाकर मसूड़ों की सूजन से बचाते हैं। यह एक एनाल्जेसिक भी है, जो मसूड़ों में दर्द से राहत दिलाता है (5)।

3. अदरक

Shutterstock

सामग्री :

  • अदरक का एक छोटा टुकड़ा
  • आधा चम्मच नमक

क्या करें?

  • अदरक को घिस लें और उसमें नमक मिलाकर पेस्ट बना लें।
  • अदरक के पेस्ट को सूजन वाले मसूड़ों पर रगड़ें और 10 से 12 मिनट के लिए छोड़ दें।
  • फिर बाद में पानी से कुल्ला कर लें।

ऐसा कब-कब करें?

इस प्रक्रिया को दिन में दो से तीन बार दोहराएं।

यह कैसे काम करता है?

अदरक में एंटी-इंफ्लेमेटरी और एंटी-ऑक्सीडेंट गुण होते हैं, जो मसूड़ों की सूजन को कम करने में मदद करते हैं (6)।

4. बेकिंग सोडा

Shutterstock

सामग्री :

  • एक चम्मच बेकिंग सोडा
  • एक चुटकी हल्दी

क्या करें?

  • हल्दी और बेकिंग सोडा को मिलाकर इससे मसूड़ों की मालिश करें।
  • फिर पानी से कुल्ला कर लें।
  • बेकिंग सोडा से ब्रश करने से भी मसूड़ों की सूजन दूर हो सकती है।

ऐसा कब-कब करें?

आप इस प्रक्रिया को रोजाना सुबह-शाम दोहरा सकते हैं।

यह कैसे काम करता है?

मसूड़ों की सूजन से जूझने वाले कई लोग बेकिंग सोडा को घरेलू उपचार के तौर पर इस्तेमाल करते हैं। इसमें मौजूद एंटी-बैक्टीरियल और एंटीसेप्टिक गुण होते हैं, जो संक्रमण के कारण मसूड़ों में होने वाली सूजन से बचाते हैं। इसके अलावा, यह मसूड़ों की सूजन भी कम करता है (7, 8)।

5. नींबू का रस

Shutterstock

सामग्री :

  • एक चम्मच नींबू का रस
  • एक गिलास गुनगुना पानी
  • एक-दो बूंद गुलाब के फूलों का रस

क्या करें?

गुनगुने पानी में नींबू का रस मिलाकर गरारे करें।

ऐसा कब-कब करें?

जब तक आराम न मिले, तब तक रोजाना गरारे करें।

यह कैसे काम करता है?

नींबू में एंटीमाइक्रोबियल गुण होता है, जो इन्फेक्शन पैदा करने वाले कीटाणुओं को मारता है। यही कीटाणु मसूड़ों में सूजन पैदा करता है। इसके अलावा, यह मुंह का पीएच स्तर भी संतुलित रखता है (9)।

6. एंसेशल ऑयल

Shutterstock

सामग्री :

  • दो बूंद कैमोमाइल एसेंशल ऑयल
  • दो बूंद टी-ट्री एसेंशल ऑयल
  • दो बूंद पेपरमिंट एसेंशल ऑयल

क्या करें?

  • सभी तेल को एक गिलास पानी में डालें। इस पानी को मुंह में भर लें और दो-तीन मिनट के लिए रखें।
  • फिर पानी मुंह से फेंक दें और साफ पानी से कुल्ला कर लें।
  • ब्रश करते समय अपने टूथपेस्ट में कुछ बूंद टी-ट्री ऑयल मिलाने से आपको मसूड़ों की सूजन से राहत मिलेगी।

ऐसा कब-कब करें?

इस माउथवॉश को आप दिन में दो बार इस्तेमाल करें।

यह कैसे काम करता है?

कैमोमाइल, टी-ट्री और पेपरमिंट के तेल मसूड़े की सूजन से होने वाले दर्द से राहत दिलाने में मदद करते हैं। टी-ट्री ऑयल और पेपरमिंट में एंटीमाइक्रोबियल गुण होता है और कैमोमाइल सूजे हुए मसूड़ों को शांत करता है। यह सूजन और दर्द भी दूर करता है (10)।

7. हिना की पत्तियां

Shutterstock

सामग्री :

  • हिना की कुछ पत्तियां
  • एक गिलास पानी

क्या करें?

  • पत्तियों को 15 मिनट के लिए पानी में उबालें।
  • मसूड़ों की सूजन से राहत पाने के लिए इस पानी से गरारे करें।

ऐसा कब-कब करें?

इस प्रक्रिया को दिन में दो बार दोहराएं।

यह कैसे काम करता है?

हिना में एंटीबायोटिक गुण होते हैं, जो मुंह से हानिकारक बैक्टीरिया दूर करने में मदद करते हैं (13)।

8. अरंडी का तेल

Shutterstock

सामग्री :

  • कपूर की एक गोली
  • कुछ बूंद अरंडी का तेल

क्या करें?

  • कपूर को पीसकर इसमें अरंडी का तेल मिलाएं और पेस्ट बना लें।
  • इस पेस्ट से अपने मसूड़ों की मालिश करें।
  • इसे दो-तीन मिनट तक लगा रहने दें और फिर गुनगुने पानी से अच्छी तरह मुंह साफ कर लें।

ऐसा कब-कब करें?

इस प्रक्रिया को रोजाना एक बार दोहराएं।

यह कैसे काम करता है?

यह उपचार मसूड़ों की सूजन कम करने में मदद करता है। कपूर में एनाल्जेसिक होता है, जो दर्द से राहत दिलाता है। वहीं, अरंडी के तेल में एंटी-इंफ्लेमेटरी गुण होते हैं, जो मसूड़ों की सूजन से राहत दिलाते हैं (14)।

9. बबुल के पेड़ की छाल

सामग्री :

  • बबुल के पेड़ की छाल का एक टुकड़ा
  • एक गिलास पानी

क्या करें?

  • बबुल की छाल को पांच से सात मिनट तक पानी में उबालें।
  • इस पानी को माउथवॉश के तौर पर इस्तेमाल करें।

ऐसा कब-कब करें?

इस पानी से दिन में तीन से चार बार कुल्ला करें।

यह कैसे काम करता है?

मसूड़ों की सूजन से राहत पाने के लिए इस उपचार को वर्षों से अपनाया जा रहा है। आयुर्वेद में भी दांतों को मजबूत और स्वस्थ बनाने के लिए बबुल की दातून चबाने का उल्लेख है। बबुल की छाल में एंटीमाइक्रोबियल गुण होता है, जो मुंह में मौजूद बैक्टीरिया खत्म करने में मदद करता है (16)। यह मसूड़ों की सूजन से राहत दिलाने में मदद करता है।

10. एलोवेरा जेल

Shutterstock

सामग्री :

  • एक एलोवेरा की पत्ती

क्या करें?

  • एलोवेरा की पत्ती से जेल निकालकर मसूड़ों पर लगाएं।
  • जितनी देर हो सके इसे मसूड़ों पर लगा रहने दें।
  • मसूड़ों में सूजन से राहत पाने के लिए आप एलोवेरा के जेल से गरारे भी कर सकते हैं।

ऐसा कब-कब करें?

आप दिन में दो बार एलोवेरा लगाएं।

यह कैसे काम करता है?

एलोवेरा जेल में एंटीबैक्टीरियल, एंटी-इंफ्लेमेटरी और एंटीऑक्सीडेंट गुण होते हैं। ये सभी मसूड़ों की सूजन दूर करते हैं और हानिकारक बैक्टीरिया को मारते हैं (17)।

11. हल्दी

Shutterstock

सामग्री :

  • एक चम्मच हल्दी पाउडर
  • ½ चम्मच नमक
  • ½ चम्मच सरसों का तेल

क्या करें?

  • सभी सामग्री मिलाकर पेस्ट बना लें और इसे मसूड़ों पर लगाएं।
  • इसे 10-12 मिनट तक लगा रहने दें।
  • फिर बाद में पानी से कुल्ला कर लें।

ऐसा कब-कब करें?

इस प्रक्रिया को सप्ताह में दो बार दोहराएं।

यह कैसे काम करता है?

हल्दी में एंटीमाइक्रोबियल गुण होते हैं, जो सूजन को कम करते हैं और मसूड़ों को जल्दी ठीक करते हैं (18)।

12. सेब का सिरका

Shutterstock

सामग्री :

  • एक चम्मच सेब का सिरका
  • एक गिलास पानी

क्या करें?

  • एक गिलास पानी में सेब का सिरका मिलाएं और इस पानी से कुल्ला करें।

ऐसा कब-कब करें?

इस प्रक्रिया को आप दिन में दो से तीन बार दोहराएं।

यह कैसे काम करता है?

सेब के सिरके में हल्का एसिड होता है, जो मुंह के पीएच को संतुलित करता है और मसूड़ों की सूजन कम करता है (19, 20)।

13. वनीला एक्सट्रेक्ट

Shutterstock

सामग्री :

  • 1-2 बूंद वनीला का एक्सट्रेक्ट

क्या करें?

  • उंगली की मदद से वनीला के एक्सट्रेक्ट को अपने मसूड़ों पर लगाएं।
  • इसे मसूड़ों पर लगा रहने दें।

ऐसा कब-कब करें?

इसे दिन में दो बार अपने मसूड़ों पर लगाएं।

यह कैसे काम करता है?

वनीला के एक्सट्रेक्ट में एंटीसेप्टिक और एनाल्जेसिक गुण होते हैं, जो मसूड़ों और दांत के दर्द से राहत दिलाते हैं (21)।

14. सेंधा नमक

Shutterstock

सामग्री :

  • एक चम्मच सेंधा नमक
  • एक गिलास गुनगुना पानी

क्या करें?

सेंधा नमक को पानी में मिलाकर गरारे करें।

ऐसा कब-कब करें?

आप रोजाना सुबह और रात को सोने से पहले इस पानी से गरारे करें।

यह कैसे काम करता है?

सेंधा नमक मसूड़ों के दर्द को कम करता है और यह सूजन कम करने में भी मदद करता है। इसमें एंटीबैक्टीरियल गुण होते हैं, जो संक्रमण को रोकते हैं।

सावधानी : आप ध्यान दें कि सेंधा नमक का पानी आप पी न जाएं।

इसमें कोई दो राय नहीं कि मसूड़ों में सूजन के कारण काफी कष्ट होता है। ऐसे में मसूड़ों के सूजन को कम करने के लिए इस लेख में बताए गए घरेलू नुस्खे आपके काम आएंगे। अगर आपको लगे कि बैक्टीरिया ज्यादा फैल रहा है, तो बिना देरी किए डॉक्टर से संपर्क करें, ताकि यह समस्या ज्यादा न बढ़ पाए। इसके अलावा, अगर आप ऊपर बताए गए नुस्खों को अपनाते हैं, तो कमेंट बॉक्स में अपने अनुभव हमारे साथ जरूर शेयर करें।

share-on-pinterest
The following two tabs change content below.

Latest posts by shivani verma (see all)

shivani verma

संबंधित आलेख

Source: https://www.stylecraze.com/hindi/masuro-ke-sujan-ke-liye-gharelu-upay-in-hindi/

SHARING IS CARING!
Share on Facebook
Facebook
0Tweet about this on Twitter
Twitter
Pin on Pinterest
Pinterest
0Share on Reddit
Reddit
0
« »